Monday, June 17, 2024
Google search engine
Homeमध्यप्रदेशSatna News :खुले में और बिना लाइसेंस नहीं बिकेगी मांस-मछली - कलेक्टर...

Satna News :खुले में और बिना लाइसेंस नहीं बिकेगी मांस-मछली – कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट ने जारी किए आदेश

सतना,मध्यप्रदेश।। कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट श्री अनुराग वर्मा ने जिले में खुले में तथा बिना अनुमति पत्र (लाइसेंस) अथवा शर्तों का उल्लंघन करते हुए पशुओं के मांस तथा मछली के विक्रय पर प्रतिबंध लगा दिया है।

IMAGE CREDIT BY SATNA TIMES

उन्होंने सभी नगरीय निकाय के सीएमओ और आयुक्त नगर निगम को जारी निर्देशों में कहा है कि मध्यप्रदेश नगर पालिक निगम अधिनियम 1956 की विभिन्न धाराओं में नगरीय क्षेत्र में नगरीय निकाय के लाइसेंस के बिना अथवा शर्तों का उल्लंघन करते हुए निर्दिष्ट स्थान के अलावा कहीं भी पशु मांस और मछली के विक्रय पर सख्त प्रतिबंध है।


यह भी पढ़े – Chitrakoot :उप मुख्यमंत्री राजेन्द्र शुक्ल ने किया चित्रकूट में वैदिक एवं संस्कृत विद्यापीठ का लोकार्पण


पर्यावरण को प्रदूषण से बचाने और मानव स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव को रोकने अधिनियम के तहत सख्त कार्रवाई की जाए। उन्होंने नगर पालिका अधिनियमों का सख्ती से पालन करते हुए ऐसा करने वालों के विरुद्ध अतिक्रमण रोधी दस्तों, स्थानीय पुलिस प्रशासन और पशु चिकित्सा अधिकारी से समन्वय कर 15 दिसंबर से 31 दिसंबर तक विशेष अभियान चलाने के निर्देश भी दिए हैं।


इसे भी पढे – MP News :प्रधानमंत्री की स्मार्ट पुलिसिंग की अवधारणा पर कार्य हो, सीएम ने पुलिस मुख्यालय में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की बैठक में दिए निर्देश


कलेक्टर श्री वर्मा के प्रतिबंधात्मक आदेश के पालन में नगर निगम सतना और नगर पंचायत, नगर पालिका क्षेत्रों में उड़नदस्तों द्वारा कार्यवाही भी शुरू कर दी गई है। कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय दंडाधिकारियों और थाना प्रभारी को अपने थाना क्षेत्र और अनुविभाग स्तर पर शांति समिति की बैठक बुलाकर तत्संबंधी निर्देशों की जानकारी और पालन करने की हिदायत देने के निर्देश भी दिए हैं।

ताज़ा समाचार और रोचक जानकारियों के लिए आप हमारे सतना टाइम्स एप को डाऊनलोड कर सकते हैं। यूट्यूब पर

JAYDEV VISHWAKARMA
JAYDEV VISHWAKARMAhttps://satnatimes.in/
पत्रकारिता में 4 साल से कार्यरत। सामाजिक सरोकार, सकारात्मक मुद्दों, राजनीतिक, स्वास्थ्य व आमजन से जुड़े विषयों पर खबर लिखने का अनुभव। Founder & Ceo - Satna Times
RELATED ARTICLES

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments