Thursday, May 23, 2024
Google search engine
Homeलेख / विशेषआइरिस एपफेल: 102 तक स्टाइल का जीवन

आइरिस एपफेल: 102 तक स्टाइल का जीवन

फैशन की दुनिया अपने सबसे जीवंत आइकन आइरिस एपफेल के निधन पर शोक मना रही है। एक शताब्दी से अधिक लंबे जीवन में, आइरिस साहसी, साहसिक शैली का प्रतीक बन गईं और कई लोगों के लिए प्रेरणा बन गईं। 1 मार्च, 2024 को 102 वर्ष की आयु में आइरिस एपफेल का निधन एक युग के अंत का प्रतीक है।

प्रारंभिक वर्ष: आइरिस बैरल

आइरिस का जन्म 29 अगस्त, 1921 को एस्टोरिया, क्वींस में हुआ था। उनके माता-पिता, सैमुअल बैरल और साडे बैरल ने उनमें छोटी उम्र से ही फैशन के प्रति प्रेम पैदा किया। उनकी माँ एक फैशन बुटीक की मालिक थीं, और उनके पिता एक कांच और दर्पण की दुकान के मालिक थे। आइरिस ने न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय में कला इतिहास और विस्कॉन्सिन विश्वविद्यालय में कला का अध्ययन किया, और इंटीरियर डिजाइन और फैशन में अपने भविष्य की नींव रखी।

पुरानी दुनिया के बुनकरों का आगमन

1947 में, आइरिस ने कार्ल एपफेल से शादी की। उन्होंने 1950 में ओल्ड वर्ल्ड वीवर्स, एक कपड़ा कंपनी शुरू की। कंपनी 17वीं, 18वीं, 19वीं और 20वीं सदी की शुरुआत के कपड़ों की नकल करने में माहिर थी। दंपति के ग्राहकों में ग्रेटा गार्बो और एस्टी लॉडर से लेकर नौ अलग-अलग राष्ट्रपतियों के तहत व्हाइट हाउस तक कई हाई-प्रोफाइल नाम शामिल थे।

फैशन की ओर एक परिवर्तन

हालाँकि आइरिस ने शुरुआत में इंटीरियर डिज़ाइन की दुनिया में अपना नाम बनाया, लेकिन यह उनकी व्यक्तिगत शैली थी जिसने अंततः उन्हें अंतर्राष्ट्रीय ख्याति दिलाई। हाउते कॉउचर और पिस्सू बाजार की खोजों के अपने उदार मिश्रण के लिए जानी जाने वाली, आइरिस की शैली व्यक्तित्व और आत्म-अभिव्यक्ति का उत्सव थी। बड़े आकार के चश्मे और रंगों और पैटर्न के बोल्ड मिश्रण के साथ उनका सिग्नेचर लुक प्रतिष्ठित बन गया।

मान्यता और प्रशंसा

2005 में, आइरिस की अनूठी शैली ने मेट्रोपॉलिटन म्यूजियम ऑफ आर्ट के कॉस्ट्यूम इंस्टीट्यूट का ध्यान आकर्षित किया। उन्होंने “रारा एविस: सिलेक्शन्स फ्रॉम द आइरिस एपफेल कलेक्शन” शीर्षक से एक प्रदर्शनी आयोजित की, जिसमें आइरिस के व्यक्तिगत संग्रह के टुकड़े शामिल थे। इस प्रदर्शनी ने आइरिस को अंतर्राष्ट्रीय स्टारडम तक पहुंचाया।

नब्बे के दशक में एक फैशन आइकन

अपनी उम्र के बावजूद, आइरिस नब्बे के दशक तक फैशन उद्योग में सक्रिय रहीं। 2018 में, उन्होंने वोग के लिए मॉडलिंग की और मैटल द्वारा उनकी समानता में एक बार्बी डॉल भी बनाई। 97 साल की उम्र में, आइरिस ने IMG के साथ एक मॉडलिंग अनुबंध पर हस्ताक्षर किया, जिससे साबित हुआ कि फैशन उद्योग में सफलता के लिए उम्र कोई बाधा नहीं है।

एक विरासत याद आ गई

आइरिस एपफेल का निधन फैशन की दुनिया के लिए एक महत्वपूर्ण क्षति है, लेकिन उनकी विरासत जीवित है। वह कई लोगों के लिए एक आदर्श थीं, उन्होंने हमें सिखाया कि फैशन आत्म-अभिव्यक्ति का एक रूप है और अलग होना ठीक है। उनकी साहसिक शैली और जीवंत भावना फैशन प्रेमियों की पीढ़ियों को प्रेरित करती रहेगी।

आइरिस एपफेल का जीवन साहसपूर्वक और प्रामाणिक रूप से जीने का एक प्रमाण था। उनका निधन फैशन की दुनिया के लिए एक क्षति है, लेकिन उनकी विरासत प्रेरित और प्रभावित करती रहेगी। आइरिस एपफेल सिर्फ एक फैशन आइकन नहीं थीं; वह व्यक्तित्व और आत्म-अभिव्यक्ति का प्रतीक थीं, जिसने यह साबित कर दिया कि दुनिया में अपनी छाप छोड़ने में कभी देर नहीं होती।

Ananya Pandey
Ananya Pandeyhttp://www.satnatimes.in
I'm Ananya Pandey, a second year BA JMC student in MIT ADT. Pursuing a career in journalism. Planning on doing MA JMC post degree college. Completed a video editing internship at TV9 Marathi and worked on site at their Mumbai headquarters. As a passionate Mass communication student, l am seeking to apply knowledge and skills in researching, writing and producing content for various media platforms. I am a hardworking quick learner and team player who is committed to gain hands on experience to excel in my field.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments