Thursday, May 23, 2024
Google search engine
Homeलाइफस्टाइलआंखों की देखभाल कैसे करें (eye care tips)

आंखों की देखभाल कैसे करें (eye care tips)

Eyes care tips : हमारे शरीर का एक महत्वपूर्ण अंग है थोड़ी देर के लिए भी अगर आंखें हमसे अलग हो जाए तो हमारे जीवन में, हमारे चारों तरफ अंधेरा ही अंधेरा छा जाएगा। आज के आधुनिक युग में कंप्यूटर ,मोबाइल, लैपटॉप जैसी इलेक्ट्रॉनिक चीजों के अधिक इस्तेमाल के कारण हमारी आंखों पर इसका बुरा असर हुआ है ।

Eye care tips

आजकल हर काम ऑनलाइन होने लगे हैं जिसके कारण अधिक से अधिक समय हमें लैपटॉप और कंप्यूटर मोबाइल आदि पर व्यतीत करना पड़ रहा है बड़े तो बड़े बच्चों को भी इसकी आदत लगती जा रही है, कुछ काम से तो कुछ अपने टाइम पास के लिए इन सब इलेक्ट्रॉनिक चीजों पर अपना अधिक समय बिताते हैं, जिसका कहीं ना कहीं हमारी आंखों पर अधिक असर हो रहा है और हमारी आंखें उम्र से पहले ही कमजोर होने लगी है ।

आंखों की देखभाल कैसे करें

आंखों पर सबसे ज्यादा असर कोरोनाकाल में ही पड़ा है, क्योंकि कोंरोनाकाल में कोई बाहर नहीं जा सकता था सारे लोग घर के अंदर ही थे और बच्चों को भी मोबाइल दे दिए गए ताकि वह अपनी ऑनलाइन क्लासेस मोबाइल पर कर सकें, work-from-home होने के कारण कई लोगों को लैपटॉप पर अपने ऑफिस के वर्क करने पड़ते थे इससे उन्हें अधिक से अधिक समय इलेक्ट्रॉनिक गैजेट के साथ बिताना पड़ता था।

काम के साथ-साथ अपने टाइम पास के लिए भी लोगों ने इन इलेक्ट्रॉनिक चीजों का सहारा लेना शुरू कर दिया जिसके कारण उनकी आंखों पर अधिक से अधिक असर होने लगा जैसे आंखों में जलन, आंखों का भारीपन, आंखों में सूजन, दूर और पास की चीजें धुंधली दिखाई देना आदि।

बच्चे और बड़े इन सब समस्याओं से गुजरने लगे।इन समस्याओं से निजात पाने के लिए हमें कम से कम समय इलेक्ट्रॉनिक चीजों पर बिताना चाहिए अब कोरोना काल खत्म हो चुके हैं तो हमें ज्यादातर बाहर ही समय व्यतीत करना चाहिए जिस दिन छुट्टी रहे उस दिन आप मोबाइल हाथ में ना लेते हुए कहीं बाहर घूमने का प्लान कर सकते हैं बच्चों को पार्क में लेकर जा सकते हैं,जिससे उनकी आउटिंग भी अच्छी तरह हो जाती है ।

आजकल हर काम ऑनलाइन होने से हमें कहीं ना कहीं इन चीजों का सहारा लेना ही पड़ता है लेकिन इसी के साथ हमें यह भी ध्यान रखना चाहिए कि हमें कितनी और कब इन इलेक्ट्रॉनिक चीजों की जरूरत पड़ती है ?और हमें अपना कितना समय इलेक्ट्रॉनिक चीजों पर व्यतीत करना चाहिए जिससे कि हमारी आंखें स्वस्थ रहें।

अब समय आ गया है कि हम जितना हो उतना कम से कम समय लैपटॉप मोबाइल टीवी आदि को दें।

Content. ( important things about eyes)

1. अपनी आंखों को जितना हो सके इलेक्ट्रॉनिक गैजेट से दूर रखें

२. नियमित रूप से सुबह उठने पर अपने चेहरे और आंखों पर ठंडे पानी के छींटे मारे

३. अगर आपको कभी भी आंखों में कुछ समस्या महसूस हो तो तुरंत आंखों के डॉक्टर के पास जाकर नियमित रूप से चेकअप कराएं

४. रात को सोने से पहले अपने चेहरे को साफ करने के अलावा अपने आंखों को भी अच्छी तरह से धोकर सोए अगर कुछ मेकअप आपकी आंखों पर लगे हुए हो तो उसे रिमूव करना भूले नहीं

५. आंखों का व्यायाम करना ना भूले आंखों के कुछ व्यायाम होते हैं जो नियमित रूप से हर किसी को करना चाहिए जैसे १. आंखों को एक बार छत की और देखें फिर फर्श की ओर देखें।

6. दोनों आंखों से एक बार दाई देखें एक बार बाय देखें उसके बाद अपनी आंखों को गोलाई की दिशा में घुमाएं

यह दोनों व्यायाम आप दिन में दो बार 15 ,15 मिनट के लिए कर सकते हैं।

अगर आपको भी अपनी आंखों में भारीपन, सुजन थकान आदि महसूस होता है तो हमारे बताए हुए घरेलू टिप्स को अपनाकर आप इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

आइए जानते हैं कुछ ऐसे घरेलू टिप्स के बारे में जिसे अपनाकर आप आप अपनी आंखों को स्वस्थ रख सकते हैं।

१. सूर्योदय से पहले उठे और उठते ही अपने मुंह में पानी भरकर अपने चेहरे और अपनी आंखों पर ठंडे पानी के 25 से 30 बार छींटे मारें।

२. अगर आपका शरीर धूप ,गर्मी या मेहनत करने से गरम हो गया हो तो थोड़ी देर आराम कर के अपने बॉडी को ठंडा करें और चेहरे को धोएं।

३. अपनी आंखों को गर्म पानी से नहीं धोना चाहिए इससे आंखों को नुकसान होता है।

४. बहुत दूर की चीजों को अपनी आंखों से रगड़ कर ना देखें कम रोशनी में टीवी देखना ,मोबाइल देखना या पढ़ाई जैसे कामों को नहीं करना चाहिए।

५. देर रात तक जागना ,पढ़ाई करना इन सब चीजों से आंखों में भारीपन और थकान महसूस हो तो आंखों को आराम दे देना चाहिए और रात को अच्छी नींद लेना चाहिए ताकि हमारी आंखें स्वस्थ रहें।

६. आंखों में अगर सूजन जैसा महसूस हो तो ग्रीन टी बैग से आप अपनी दोनों आंखों पर बारी-बारी से 10 मिनट के लिए रख सकते हैं। आंखों के नीचे के डार्क सर्कल को हटाने के लिए भी ग्रीन टी बैग का उपयोग किया जाता है।

७. आंखों को धूल ,प्रदूषण सूरज की तेज रोशनी आदि से बचा कर रखना चाहिए और आंखों में थकान महसूस होने पर बीच-बीच में हल्के हाथों से अपनी आंखों को दबा दबा कर थोड़ा व्यायाम करना चाहिए ।

८.आलू के स्लाइसेज कट करके आप दिन में दो बार अपनी आंखों पर 10 मिनट के लिए रखें इससे आपकी आंखों को ठंडक और आराम मिलेगा।

९. अगर आपके आंखों में जलन महसूस हो रही , तो गुलाब जल की कुछ बूंदे अपनी आंखों में डाल सकते हैं।

१०. ठंडा खीरा कट करके आप अपनी आंखों पर 10 मिनट के लिए रखिए इससे आपकी आंखों को ठंडक तो महसूस होगा साथ ही आप भी फ्रेश फील करेंगे।

11.एलोवेरा को भी आप आंखों के नीचे लगा सकते हैं जिससे आपकी आंखों के डार्क सर्कल्स दूर होंगे तथा आपकी आंखों को भी आराम महसूस होगा।

आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए विटामिंस

१. आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए सबसे जरूरी चीज है कि आप हरी पत्तेदार सब्जियां सीजनल फल ड्राई फूड आदि को अपने डाइट में शामिल करें ।

२. आंखों के लिए अंडा बहुत ही लाभदायक होता है रोज एक अंडा खाना चाहिए इसी के साथ मछली में ओमेगा 3 पाया जाता है जो आंखों के लिए बहुत इंपॉर्टेंट होता है इसीलिए मछली का भी सेवन करें।

३. हफ्ते में 3 दिन बादाम वाला दूध पीना चाहिए इसमें विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाया जाता है।

४. जिंक और विटामिन ई युक्त पदार्थों का सेवन करना चाहिए । संतरे को भी अपनी डाइट में शामिल करें इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है जो आपकी आंखों को हाइड्रेट रखता है और मोतियाबिंद होने से बचाता है

५. देखने की क्षमता उम्र भर ऐसे ही बनी रहे इसलिए अपने खाने में प्याज और लहसुन को भी शामिल करें।इसी के साथ भरपूर नींद लें और नियमित रूप से अपनी आंखों का चेकअप भी कराते रहें।

(अस्वीकार) यह लेख बस जानकारी हेतु दिया गया है। अगर आप इसी तरह के अच्छे पोस्ट पढ़ना चाहते हैं या नई-नई जानकारियां प्राप्त करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक को ओपन करके पढ़ सकते है।

READ ALSO 👇

Skincare and healthy tips

आशा करते हैं यहां आर्टिकल आपको पसंद आया होगाअगर आपके कोई सवाल या विचार है तो हमें कमेंट सेक्शन में कमेंट करें।

[contact-form][contact-field label=”Name” type=”name” required=”true” /][contact-field label=”Email” type=”email” required=”true” /][contact-field label=”Website” type=”url” /][contact-field label=”Message” type=”textarea” /][/contact-form]

 

 

 

 

Ritu Rai
Ritu Raihttps://satnatimes.in/
Blogger / Hindi or English content writer/Teacher / Translator certified accredited 'A' leval by NAAC (bangalore)/ certified in Mass communication (Nagpur University)/ master of arts in Hindi literature/
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -
Google search engine

Most Popular

Recent Comments